CM धामी ने सुंदरकांड पाठ के साथ आध्यात्मिक प्रस्तावना की प्रज्वलित , 22 जनवरी को दीपोत्सव मनाने का किया आग्रह

CM धामी ने सुंदरकांड पाठ के साथ आध्यात्मिक प्रस्तावना की प्रज्वलित , 22 जनवरी को दीपोत्सव मनाने का किया आग्रह

एक महत्वपूर्ण सांस्कृतिक उत्सव के मौके पर, Uttarakhand के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि कुछ ऐतिहासिक होने वाला है। बहुत वर्षों के बाद, प्राण प्रतिष्ठा का शुभ समय आ रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री Modi ने एक सौ चालीस करोड़ देशवासियों को रामोत्सव मनाने का एक अवसर प्रदान किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 22 जनवरी को सभी को रामज्योति जलाकर और भगवान राम की स्मृति में दीपोत्सव मनाने का आदान-प्रदान करना चाहिए।

अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह से पहले, Uttarakhand के मुख्यमंत्री ने अपने आवास पर सुंदरकांड का पाठ और श्रीराम संध्या का आयोजन किया गया। इस मौके पर, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और गवर्नर लेफ्टिनेंट गुरमीत सिंह अपने परिवार के साथ उपस्थित थे। इस धार्मिक आयोजन के दौरान, मुख्यमंत्री ने तीन घंटे तक सुंदरकांड और राम भजन का पाठ किया। भजन गायकों स्वाति मिश्रा और विवेक नौटियाल ने सुंदरकांड का पाठ किया।

इस धार्मिक घटना के कारण, सभी उपस्थित भक्तों का दिल भगवान राम की भक्ति में रत दिखाई दिया। सुंदरकांड के पाठ के कारण पूरा माहौल भगवान राम की भक्ति से भर गया। मुख्यमंत्री के साथ ही, गवर्नर ने भी अपने परिवार के साथ सुंदरकांड का पाठ किया। भगवान राम की आरती की गई। इन नेताओं ने राज्य की समृद्धि के लिए शुभकामनाएँ भी दीं।

इस खास समर्पण के दौरान, मुख्यमंत्री ने भजन गायिका स्वाति मिश्रा को सम्मानित किया, और उन्होंने भगवान राम के लिए उनके गाने की प्रशंसा की। स्वाति मिश्रा का भजन प्रधानमंत्री नरेंद्र Modi ने सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म्स पर भी साझा किया था।

समारोह के दौरान, मुख्यमंत्री धामी ने प्रधानमंत्री Modi का संदेश साझा किया, जिसमें 22 जनवरी को अयोध्या में रामलला की विराजमानता की गई है। इस लंबे समय से प्रतीक्षित अवसर के लिए कृतज्ञता व्यक्त करते हुए, उन्होंने प्रधानमंत्री के आह्वान पर राष्ट्र को रामोत्सव मनाने का आदान-प्रदान किया। मुख्यमंत्री धामी ने उत्तराखंड के लोगों से 22 जनवरी को राम ज्योति जलाकर और भगवान राम की स्मृति में दीपोत्सव मनाने की अपील की।

इस अवसर पर, पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी ने भी Uttarakhand के मंत्रियों, विधायकों और सामान्य जनता के साथ सुंदरकांड और राम भजन में भाग लिया। कार्यक्रम का संचालन सूचना के महानिदेशक बंशीधर तिवारी ने किया।

Similar Posts