Uttarakhand 2024,समरूप नागरिक संहिता,सीएम धामी ने पेश किया विधेयक

Uttarakhand 2024,समरूप नागरिक संहिता,सीएम धामी ने पेश किया विधेयक

Uttarakhand के मुख्यमंत्री Pushkar Singh Dhami ने मंगलवार को Uttarakhand विधानसभा में समरूप नागरिक संहिता Uttarakhand 2024 विधेयक प्रस्तुत किया। इसके बाद यह विधेयक सभा में चर्चा के लिए रखा जाएगा।

Uttarakhand समरूप नागरिक संहिता विधेयक:

Uttarakhand के मुख्यमंत्री Pushkar Singh Dhami ने मंगलवार को Uttarakhand विधानसभा में समरूप नागरिक संहिता Uttarakhand 2024 विधेयक प्रस्तुत किया। विधेयक प्रस्तुत करने के बाद, मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने समरूप नागरिक संहिता विधेयक को सभी समृद्धि के साथ सभी वर्गों को साथ लेकर सभी जिम्मेदारी के साथ विधानसभा में प्रस्तुत किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस ऐतिहासिक क्षण के बाद देवभूमि के लिए एक मजबूत स्तंभ बनेगा जब Uttarakhand प्रधानमंत्री Narendra Modi के “एक भारत, श्रेष्ठ भारत” के दृष्टिकोण का समर्थन करेगा।

इस विधेयक की प्रावधानिकता:

इस विधेयक के अनुसार, यह समरूप नागरिक संहिता पूरे Uttarakhand पर एकसमान रूप से लागू नहीं होगी। वाणिज्यक जनजातियों के सदस्यों को इसके प्रावधानों से छूट दी गई है। इसके अलावा, ऐसे व्यक्तियों और समूहों को भी छूट मिलेगी जिनके पारंपरिक अधिकारों की सुरक्षा संविधान के भाग 21 में की गई है।

संविधान और संगीत से संबंधित सदस्यों का संरक्षण:

इस छूट का प्रावधान सुनिश्चित करता है कि समरूप नागरिक संहिता छूटी जाने वाली समुदायों के सांस्कृतिक और परंपरागत अधिकारों पर कोई प्रभाव नहीं डालेगी। यह विधेयक इन समुदायों की अद्वितीय विधियों और प्रथाओं की सुरक्षा को महत्वपूर्ण मानता है।

अनुमोदन प्रक्रिया:

विधेयक को सभा में प्रस्तुत करने के बाद, इस पर चर्चा और बहस होगी। अगर सभा द्वारा इसे पारित किया जाता है, तो यह गवर्नर को भेजा जाएगा। जब गवर्नर इसे साइन करेंगे, तब यह विधेयक कानून बन जाएगा।

जनसंख्या सांख्यिकी:

2011 की जनगणना के अनुसार, Uttarakhand में अनुसूचित जनजातियों की कुल जनसंख्या 2.89% है। धार्मिक रूप से राज्य में 82.97% हिन्दू, 13.95% मुस्लिम, 0.37% ईसाई, 2.34% सिख, 0.15% बौद्ध, 0.09% जैन और 0.1% अन्य धर्मों के अनुयायी हैं।

यह छूटी का प्रावधान राज्य की विविधता को मानता है और विशिष्ट समुदायों की सांस्कृतिक और पारंपरिक अधिकारों का सम्मान करने की आवश्यकता को दर्शाता है।

Similar Posts